रिपब्लिक चैनल के मुताबिक PAK से आजादी चाहते हैं 73% POK वासी

0
61

इस्लामाबाद: पाक अधिकृत कश्मीर(POK)में सबसे ज्यादा बिकने वाले उर्दू अखबार डेली मुजादाला को पाकिस्तान सरकार ने बंद करवा दिया है। जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के शहर रावलकोट से प्रकाशित होने वाले इस अखबार ने POK में रहने वाले लोगों के बीच एक सर्वे करवाया था। सर्वे में लोगों से पाकिस्तान में रहने को लेकर सवाल पूछे गए थे।

रिपब्लिक चैनल के मुताबिक, करीब 73 प्रतिशत लोगों ने पाकिस्तान में रहने के खिलाफ मतदान किया जिससे पाकिस्तान में हड़कंप मच गया और पाक सरकार ने अखबार पर रोक लगा दी। ये सर्वे करीब 10 हजार लोगों के बीच कराया गया था वहीं करीब इस सर्वे में 5 साल का समय लगा। जिसमें करीब 73 प्रतिशत कश्मीरी पाकिस्तान से अलग होने की बात पर सहमत पर नजर आए।

इसके बाद जब चैनल ने अखबार के एडिटर हारिस क्वादर से बात की तो उन्होंने बताया कि हमने लोगों से 2 सवाल पूछे पहला कि क्या वो 1948 के कश्मीर के स्टेटस को बदलना चाहते हैं तो ज्यादातर लोग इसपर सहमत दिखे। तो वहीं 73 प्रतिशत कश्मीरी पाकिस्तान से आजादी के पक्ष में नजर आए।” एडिटर ने कहा, ‘पाकिस्तान सरकार ने मेरे खिलाफ नोटिस भेजा है और मुझ पर कार्रवाई की है यहां तक कि मेरे कार्यालय को भी सील कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here